निर्मल हिंडन कार्यक्रम के अन्तर्गत तकनीकी कार्यशाला

निर्मल हिंडन कार्यक्रम के अन्तर्गत दिनांक 09.06.2018 को एक तकनीकी कार्यशाला का आयोजन मण्डलायुक्त, मेरठ के कार्यालय सभागार में किया गया। निर्मल हिंडन कार्यक्रम के अध्यक्ष एवं मण्डलायुक्त मेरठ, डा॰ प्रभात कुमार द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यशाला के प्रयोजन और संचालन के विषय में विस्तृत विवरण देने के साथ शुभारम्भ किया। इन्टेक के साजिद इदरीस और मनु भटनागर द्वारा हिंडन बेसिन के जल-स्त्रोतों के वैज्ञानिक अध्ययन की प्रस्तुति दी गयी। प्रश्नोत्तर काल में प्रतिभागियों की शंकाओं का समाधान किया गया।

कार्यशाला को पाँच स्तम्भों में विभाजित करके पाँच समूहों में प्रतिभागियों द्वारा गहन विचार विमर्श किया गया। पहले स्तम्भ-वनीकरण के मोडरेटर श्री डी वी कपिल काॅर्डिनेटर, निर्मल हिंडन और चेयरमेन श्री ललित कुमार वर्मा, मुख्य वन संरक्षक, दूसरे स्तम्भ-जैविक खेती(हरित कृषि) की मोडरेटर डा॰ रितु सिंह, इनटेक और चेयरमेन श्री सुनील कुमार अग्निहोत्री, संयुक्त निदेशक कृषि, तीसरे स्तम्भ-अपशिष्ट प्रबन्धन की मोडरेटर डा॰ वीना खण्डूरी, आई डब्ल्यू पी, और चेयरमेन, श्री रामचन्द्र, अपर जिलाधिकारी, मेरठ, चैथे स्तम्भ-तालाबों का पुनर्जीवन की मोडरेटर सुश्री एनालिका एम लनिंगा, 2030 डब्ल्यू॰आर॰जी॰ और चेयरमेन श्री एच॰एन॰ सिंह, अधीक्षण अभियन्ता, डेªनेज मण्डल, गाजियाबाद और पाँचवे स्तम्भ-शासन की सहभागिता के मोडरेटर डा॰ मनु भटनागर, इनटेक और चेयरमेन श्री जय शंकर दूबे, अपर आयुक्त, मेरठ ने समूह चर्चा के बाद अपने-अपने समूह का प्रजेन्टेशन प्रस्तुत किया।

Leave a reply

Minimum 4 characters